चाइल्ड प्लान खरीदते समय ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें

चाइल्ड प्लान आमतौर पर बच्चे की शिक्षा के वित्तपोषण के लिए गारंटीड भुगतान की पेशकश करते हैं ताकि वे आगे एक आरामदायक जीवन जी सकें।
पीपीएफ या एफडी जैसे पारंपरिक निवेश के बजाय की तुलना में Child Plan अधिक रिटर्न देने के लिए जाने जाते हैं।

चाइल्ड प्लान में ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें

विभिन्न बीमा कंपनियां पारंपरिक योजनाओं से लेकर बाजार से जुड़ी नीतियों तक, चाइल्ड प्लान पेश करती हैं। जबकि पारंपरिक योजनाएं केवल डेट फंड में निवेश करती हैं, बाजार से जुड़ी नीतियां पॉलिसीधारकों को डेट और इक्विटी दोनों में निवेश करने की अनुमति देती हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि स्कूली शिक्षा, शौक, उच्च अध्ययन, खेल आदि से शुरू होने वाले बच्चे के लिए कार्यक्रमों की श्रृंखला पर विचार करना आवश्यक है और फिर बाल योजना चुनने से पहले उनके लिए प्रावधान करना आवश्यक है।

किसी भी दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थिति में माता-पिता के न होने पर भी बच्चे की जरूरतों का ध्यान रखा जाएगा। इसी तरह, पॉलिसीधारकों की मृत्यु या विकलांगता के मामले में, चाइल्ड प्लान समय-समय पर भुगतान करते हैं और बच्चे के लक्ष्यों को प्रदान करते हैं। चूंकि ये पॉलिसी प्रीमियम की अंतर्निर्मित छूट के साथ आती हैं, पॉलिसीधारक को कुछ भी होने पर पॉलिसी के लिए भविष्य के प्रीमियम को माफ कर दिया जाता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि पीपीएफ या एफडी जैसे पारंपरिक निवेश के रास्ते की तुलना में चाइल्ड प्लान अधिक रिटर्न देने के लिए जाने जाते हैं। शुरू करने के लिए, जल्दी शुरू करें। ये निवेश निवेश करने के लिए एक लंबा क्षितिज प्रदान करते हैं, जिससे निवेशक को समय-समय पर धन का निर्माण करने में मदद मिलती है, इसलिए, इन चाइल्ड प्लान के साथ जल्दी शुरुआत करना महत्वपूर्ण है। विशेषज्ञों का कहना है कि ऐसी योजना चुनें जो लंबी अवधि के निवेश को प्रोत्साहित करे।

सही योजना चुनना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। एक ऐसी योजना चुनने का प्रयास करें जो हर जरूरत और लक्ष्य के अनुकूल हो, क्योंकि हर बच्चे के लक्ष्य और महत्वाकांक्षाएं अद्वितीय और अलग-अलग होती हैं। इस तरह आपके पास भविष्य में अपने बच्चे के सपनों को पूरा करने में मदद करने के लिए उचित वित्तीय योजना होगी।

उदाहरण

उदाहरण के लिए, फंड की सही श्रेणी चुनना भी आवश्यक है, उदाहरण के लिए, यदि आपके पास उच्च जोखिम वाली भूख है, तो इक्विटी-लिंक्ड योजनाओं का विकल्प चुनें। इसलिए, विशेषज्ञों का कहना है कि इक्विटी निवेश के साथ कम से कम 10 साल और उससे अधिक की समय सीमा पर विचार करने से अच्छा रिटर्न मिलता है, जिससे आपके निवेश को बढ़ने में मदद मिलेगी। इसके अतिरिक्त, जोखिम कवर के साथ डेट और ग्रोथ फंड दोनों का संतुलित मिश्रण वाला चाइल्ड प्लान आदर्श मिश्रण है।

कम जोखिम वाले लोगों के लिए, विशेषज्ञों का कहना है, एंडोमेंट प्लान जाने का सही तरीका है। एंडोमेंट प्लान उन निवेशकों के लिए आदर्श हैं जो अपने निवेश पर जोखिम लेना पसंद नहीं करते हैं। ध्यान दें कि यह न केवल आपको पर्याप्त कवर देगा बल्कि बाजार की अस्थिर स्थितियों से सुरक्षा सुनिश्चित करेगा।

Read More

2 thoughts on “चाइल्ड प्लान खरीदते समय ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें”

Leave a Comment