Atal Pension Yojana (APY) All Details in Hindi

नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे Atal Pension Yojana के बारे में और इससे सम्बन्धित सम्पूर्ण जानकारी तो चलिए सबसे पहले जानते है की अटल पेंशन योजना क्या है?

Atal Pension Yojana क्या है ?

अटल पेंशन योजना भारत सरकार द्वारा 2015 में शुरू किया गया था जिसका मुख्य उद्देश्य था असंगठित क्षेत्र में वृद्ध आयु के लोगों के आय पर ध्यान देना । असंगठित क्षेत्र यानि की ऐसे एंप्लॉई जो की निजी सेक्टर में हो, खुद का व्यवसाय करते हो या ऐसे एंप्लॉयज जो भारत सरकार की किसी भी पेंशन के दायरे में न आते हों उन सभी के लिए सरकार गारंटी पेंशन का इंतजाम करती है । इस योजना में अब तक लगभग 5 लाख लोगों ने एनरोल किया है ।

इसमें कोई भी 20 वर्ष का व्यक्ति 248 रुपए के मासिक निवेश से 60 साल बाद जिंदगी भर 5000 रुपए का पेंशन पा सकता है। इस योजना में निवेश से जिंदगी भर आपको पेंशन मिलेगा इसी के कारण यह लोगों में सबसे पॉपुलर पेंशन योजना है । चलिए अब जानते है की कौन इस योजना में अप्लाई कर सकता है?

अटल पेंशन योजना में अप्लाई करने हेतु योग्यता :- 

  1. इस योजना में कोई भी भारतीय जिसकी उम्र 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच में है वो इसमें अपना अकाउंट ओपन करा सकता है ।
  2. इस योजना में अप्लाई करने से पहले ये ध्यान रखना जरूरी है की अगर आप गवर्नमेंट की किसी और सेवानिवृत्ति योजना या पेंशन योजना का लाभ पहले से ले रहे हैं तो आप इस योजना के लिए योग्य नहीं है ।
  3. आप अटल पेंशन योजना में मैग्रेट जरूर कर सकते हैं लेकिन अटल पेंशन योजना में एनरोल नहीं कर सकते ।

अटल पेंशन योजना को कौन चलाता है?

तो सामान्यतः इस योजना को संचालित करती है PFRDA यानि की pension fund regulatory and development authority । इस योजना में आपको न्यूनतम 20 साल तक निवेश करना होगा और 60 वर्ष के हो जाने पर भारत सरकार द्वारा गारंटी पेंशन दिया जायेगा । इस योजना की सबसे खास बात ये हैं की आप इसमें पेंशन खुद ही चुन सकते हैं फिर आपकी मासिक , त्रैमासिक या छः मासिक हो आप खुद या निर्णय ले सकते है की आप पेमेंट हर महीने करेंगे या हर तीन महीने करेंगे या फिर हर छः महीने करना चाहते हैं। उसी के अनुसार आपकी किस्त बन जायेगी और उतना राशि आपके अकाउंट से कटेगा । चलिए अब जानते है की अटल पेंशन योजना में अकाउंट कैसे ओपन करवाते हैं?

Atal Pension Yojana अकाउंट ओपन कैसे करें?

तो इसके लिए हमारे पास दो ऑप्शन हैं या तो आप ऑनलाइन या ऑफलाइन अकाउंट ओपन करा सकते हैं । ऑनलाइन आप किसी भी बैंक के पोर्टल पर जाकर या NSDL के ऑफिशियल वेबसाइट www.enps.nsdl.com पर जाकर भी अटल पेंशन योजना के लिए अप्लाई कर सकते हैं । इसके अलावा अगर आप ऑफलाइन भी अप्लाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आपकी जिस भी बैंक में अकाउंट हो आप उस बैंक में जाकर अपना अकाउंट ओपन करवा सकते हैं । आप अटल पेंशन योजना किसी भी पोस्ट ऑफिस से भी ओपन करवा सकते हैं इसके लिए आपको अटल पेंशन योजना फॉर्म को भर करके उसको सबमिट करना होगा । 

अटल पेंशन योजना हेतु जरूरी दस्तावेज :-

अकाउंट ओपन करवाने के लिए आपके पास तीन डॉक्यूमेंट जरूरी रूप से होनी ही चाहिए ।

  1. आधार कार्ड 
  2. बैंक अकाउंट
  3. नॉमिनी डिटेल्स 

आप किसी भी निजी या सरकारी बैंक में जाकर अटल पेंशन योजना का अकाउंट ओपन करवा सकते हैं । चलिए अब जानते है की पेंशन और प्रीमियम को कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

पेंशन कैसे कैलकुलेट करें?

अटल पेंशन योजना के सदस्य को 1000, 2000, 3000, 4000, या 5000 रुपए तक की पेंशन मिल सकती है । आपको 60 वर्ष के होने पर कितनी पेंशन चाहिए ये आप खुद ही डिसाइड कर सकते हैं यही इस योजना की सबसे खास बात है और जितना पेंशन आप अपने लिए डिसाइड करते हैं उतना पेंशन आपको गारंटी मिलेगा और आपकी निवेश भी उसी के अनुसार होगी । अब आप सोच रहे होंगे की कितनी पेंशन पाने के लिए कितना निवेश करना होगा तो चलिए इसको समझते है अटल पेंशन योजना कैलकुलेटर से ।

अटल पेंशन योजना कैलकुलेटर :- 

मान लीजिए की आपकी उम्र 25 वर्ष की है और आपको 60 साल के बाद 5000 रुपए का मासिक पेंशन चाहिए तो आपको मासिक 376 रुपए का निवेश करना होगा 35 साल तक  जिसके बाद ही आपको 60 वर्ष के बाद मासिक 5000 रुपए मिलेगा पेंशन के रूप में सरकार की तरफ से तो अगर आप भी अपना मासिक निवेश कैलकुलेट करना चाहते है आपको जितनी पेंशन चाहिए उसके अनुसार तो नीचे दिए बटन पर क्लिक करके कैलकुलेट कर सकते हैं ।    

Atal Pension Yojana से जुड़ी हुई अफवाहें :-

अब जब अटल पेंशन योजना शुरू हुआ था तो सरकार द्वारा यह कहा गया था की जो लोग EPF अकाउंट होल्डर है या फिर जो लोग टैक्स के दायरे में आते है वो लोग अटल पेंशन योजना अकाउंट ओपन नहीं करवा सकते है लेकिन अब ऐसा नहीं है ये नियम सिर्फ शुरुवात में था।

सरकार की भागीदारी भी इस योजना में होती है गवर्नमेंट या तो कुल कंट्रीब्यूशन का 50% कंट्रीब्यूट करती है या फिर 1000 रुपए वार्षिक कंट्रीब्यूट करती है । चलिए अब जानते है की अकाउंट होल्डर की समय से पहले मौत हो जाती है तो उसमे क्या होगा?

समय से पहले खाता धारक की मृत्यु की परिस्थिति में क्या होगा 

ऐसे में चार कंडीशन आ जाती है अगर अकाउंट होल्डर की उम्र 60 साल से कम थी तो वो अकाउंट उसके पति या पत्नी कंटिन्यू कर सकते है । फिर उन्हें 60 वर्ष के बाद वही पर पेंशन मिलेगा । इसके अलावा नामिनी चाहे तो वही पर अकाउंट को बंद करा कर पूरी राशि को विड्रॉल करा सकता है । 

अगर अकाउंट होल्डर 60 वर्ष या उससे ज्यादा का हो तो पेंशन उनके पति या पत्नी को मिलती रहेगी और अगर दोनो को मृत्यु हो जाती है तो पेंशन का पूरा लाभ उनके नॉमिनी को मिल जायेगा ये कॉर्पस अकाउंट होल्डर के पेंशन ऑप्शन पर आधारित होगा । अब अगर अकाउंट होल्डर ने 1000 रुपए पेंशन को चुना था तो नॉमिनी को 1 लाख 70 हजार और 2000 रुपए चुना हो तो कॉर्पस 3 लाख 40 हजार रुपए , 3000 रुपए की पेंशन को चुना था तो कॉर्पस 5 लाख 10 हजार , 4000 की पेंशन को चुना था तो 6 लाख 80 हजार रुपए , और अगर 5000 रुपए की पेंशन को चुना था तो 8 लाख 50 हजार रुपए नॉमिनी को मिलेगा । 

ये सभी राशि पहले ही डिसाइड होता है की अगर खाता धारक की समय से पहले मौत हो जाती है तो नॉमिनी को इतनी राशि दी जाएगी । चलिए अब जानते है अटल पेंशन योजना में कौन कौन से चार्जेस आपको अलग से देने पड़ते हैं।

Atal Pension Yojana में अतिरिक्त चार्जेस :- 

Opening Charge – Rs. 50 

Annual maintenance charge – Rs. 15 to 25.

ये चार्ज पूरी तरह से बैंक पर निर्भर करते हैं । अलग अलग बैंक में चार्ज भिन्न हो सकतें हैं । इसके साथ ही साथ साल में एक बार आप अपनी निवेश बढ़ा सकतें है या घटा सकतें है। जिसे हम सामान्यतः अपग्रेड या डाउनग्रेड कहते हैं । तो ये निर्णय हर साल अप्रैल महीने में ले सकते हैं । और इसके लिए आपको 50 रुपए की चार्जेस देनी होती है । 

अटल पेंशन योजना में पेनाल्टी :- 

ये पेनाल्टी 1 रुपए से लेकर 10 रुपए तक हो सकती हैं यह आपके निवेश किए गए राशि पर निर्भर करती है । 

InvestmentPenalty
Rs. 1000Rs. 1 
Rs.101-500Rs. 2
Rs. 501- 1000Rs. 5 
> Rs. 1000Rs. 10

इसके साथ साथ अगर आप 6 माह तक डिफॉल्ट कर रहे है तो आपके अकाउंट को फ्रीज कर दिया जायेगा । 12 माह तक अगर डिफॉल्ट कर रहे हैं तो डीएक्टिवेट कर दिया जायेगा और 24 महीने के डिफल्ट पर अकाउंट को बंद कर दिया जायेगा ।

अटल पेंशन योजना में प्री मेच्योर क्लोसर :-

ऐसा केवल तीन कंडीशन में कर सकते हैं –

  1. लाइफ थ्रेटनिंग डिजीज 
  2. अकाउंट होल्डर की समय से पहले मृत्यु
  3. पैसे न होने की स्थिति में

तो ऐसे में आप अपना अटल पेंशन योजना। बंद करवा सकते है इसके लिए आपको बैंक मे जाकर फॉर्म भर कर उसे जमा करना होगा ।

निष्कर्ष :-

तो आज के इस आर्टिकल में हम ने जाना की अटल पेंशन योजना क्या है और इससे जुड़ी हुई संपूर्ण जानकारी तो मुझे आशा है की आपको इस योजना के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से समझ आई होगी तो अगर आप भी किसी असंगठित क्षेत्र में आते है इस सरकारी योजना में जरूर निवेश करें यह आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन हो सकता है आपके भविष्य को सिक्योर करने के लिए तो अगर यह आर्टिकल आपके लिए इनफॉर्मेटिव रही होगी तो जरूर इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

Read Aslo: Top 5 Free Money Making government schemes

1 thought on “Atal Pension Yojana (APY) All Details in Hindi”

Comments are closed.