LIC धन वृद्धि प्लान 869: आपके भविष्य की सुरक्षित निवेश योजना

Share this Article

JOIN US

नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे ब्लॉग Freeonlineupdate में। आज हम आपको भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के LIC धन वृद्धि प्लान-869 के बारे में सभी प्रकार की जानकारी आपको आगे विस्तार से बताएंगे। LIC धन वृद्धि प्लान-869 एक निश्चित अवधि वाली बीमा योजना है। LIC धन वृद्धि प्लान-869 एक नॉन-लिंक्ड, बचत वाली और एकल प्रीमियम वाली जीवन बीमा योजना है। LIC ने इस प्लान को 23 मई 2023 को लॉन्च किया था। इस प्लान पर आपको लोन की फैसिलिटी भी मिलती है। इस प्लान में आपको सुरक्षा और बचत दोनों अच्छे मिल जाते है।

Table of Contents

LIC धन वृद्धि प्लान-869 क्या है :-

  • LIC धन वृद्धि प्लान-869 एक नॉन लिंक्ड प्लान है जिसका मतलब यह प्लान मार्किट से जुड़ा हुआ नहीं है।
  • LIC धन वृद्धि प्लान-869 को 23 मई 2023 को लॉन्च किया गया था और 30 सितम्बर तक ही इसको आप ले सकते है।
  • यह एक नॉन पार्टिसिपेटिंग इंडविजुअल सेविंग प्‍लान है और यह एक लाइफ इंश्योरेंस सिंगल-प्रीमियम पॉलिसी है।
  • यह पॉलिसी हॉल्डर को पॉलिसी टर्म के दौरान बचत के साथ सुरक्षा भी प्रदान करता है।
  • इस प्लान में की खास बात यह है की इस प्लान में आप लोन भी ले सकते है।
  • इस प्लान का पॉलिसी टर्म 10 साल का होता है।

LIC धन वृद्धि प्लान-869 के लिए पात्रता :-

  • न्यूनतम उम्र – इस पॉलिसी में उम्र कम से कम 90 दिन होनी चाहिए। इसका मतलब यह है की यह पॉलिसी उस बच्चे को दी जा सकती है जिसकी उम्र 90 दिन हो गयी हो।
  • अधिकतम उम्र – इस पॉलिसी के लिए अधिक से अधिक उम्र 60 वर्ष होनी चाहिए। इसका मतलब यह है की 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्ति को यह पॉलिसी नहीं दी जाती है।
  • मैच्योरिटी की अधिकतम उम्र – इस पॉलिसी में मैच्योरिटी की अधिकतम उम्र 78 वर्ष होनी चाहिए।
  • पॉलिसी टर्म (Policy Term) – इस प्लान में पॉलिसी अवधि 10 वर्ष,15 वर्ष और अधिकतम 18 वर्ष है।
  • प्रीमियम भुगतान टर्म(PPT) – इस पॉलिसी में प्रीमियम भुगतान एक बार ही किया जाता है।
  • बीमित राशि (sum Assured) – इस पॉलिसी में कम से कम बीमित राशि 1.25000 (एक लाख 25 हज़ार) रूपये है।

LIC धन वृद्धि प्लान-869 को सर्रेंडर कब कर सकते है :-

इस प्लान के अंतर्गत आप पॉलिसी प्रीमियम के बाद किसी भी समय सर्रेंडर करवा सकते है।

LIC Dhan Vridhi Plan-869 के लाभ :-

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 में नीचे बताए अनुसार कई लाभ प्रदान करती है तो हम उन सभी लाभों के बारे में यहाँ हम चर्चा करेंगे।

  • मृत्यु लाभ =
    • यदि पॉलिसी अवधि के भीतर पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो परिवार वालो को मृत्यु लाभ प्राप्त होता है।
  • मैच्योरिटी बेनिफिट =
    • यदि पॉलिसीधारक पॉलिसी अवधि तक जीवित रहता है तो मैच्योरिटी बेनिफिट के रूप में बीमा राशि का भुगतान एकमुश्त किया जाता है।
  • टैक्स बेनिफिट =
    • इस पॉलिसी के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम को आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत आयकर से छूट दी गई है।
  • कूलिंग ऑफ़ पीरियड =
    • यदि किसी तरह से पॉलिसी धारक को पॉलिसी पसंद नहीं आती है तो वह पॉलिसी की तारीख के 15 दिनों के अंदर पॉलिसी वापस कर सकता है।
  • आत्महत्या क्लॉज =
    • यदि पॉलिसी धारक के द्वारा पॉलिसी की तारीख के 12 महीने के अंदर अगर आत्महत्या कर ली जाती है तो भुगतान किये गए प्रीमियम का 80% तक भुगतान किया जाता है और यदि 1 साल के बाद आत्महत्या की जाती है तो पूरी बीमा राशि और बोनस का भुगतान पॉलिसी के नॉमिनी को दिया जाता है।

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 लोन कब मिल सकता है :-

इस योजना के अंतर्गत बीमा धारक पॉलिसी के 3 महीने पुरे होने के बाद लोन की सुविधा भी प्राप्त कर सकते हैं।

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स :-

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट
  • ईमेल आईडी
  • जाति प्रमाण पत्र

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 में रिस्क कवरेज कब शुरू होती है

इस प्लान में रिस्क कवरेज के बारे में जानना बहुत जरुरी है क्योंकि रिस्क कवरेज जान लेने से कोई परेशानी नहीं होती है।

यदि किसी बच्चे की उम्र 8 वर्ष से कम है तो उसका रिस्क कवर शुरू हो जायेगा।
यदि पॉलिसी लेने के 2 साल के बाद या 8 साल की उम्र होने के बाद में
दोनों में से जो भी जल्दी पूरी होगी रिस्क कवर तभी से शुरू होगा।

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 में कोनसे राइडर उपलब्ध है :-

इस पॉलिसी के अंतर्गत 2 प्रकार के राइडर्स उपलब्ध होते है-

  • दुर्घटना मृत्यु और विकलांगता लाभ राइडर
  • टर्म एश्योरेंस राइडर

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 में टैक्स बेनिफिट :-

इस पॉलिसी के अंतर्गत हमें जो टैक्स बेनिफिट मिलता है जो इस प्रकार है-

  • इस पॉलिसी के लिए जो प्रीमियम का भुगतान करते है तो इनकम टैक्स के सेक्शन 80 C के तहत छूट मिलती है।
  • LIC धन वृद्धि प्लान के तहत maturity पर इनकम टैक्स के सेक्शन 10 और 10(D) के तहत छूट मिलती है।

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 के लिए आवेदन कैसे करें ?

lic धन वृद्धि प्लान को लेने के लिए बीमा लेने वाले व्यक्ति के पास 2 ऑप्शन उपलब्ध है।

  • एजेंट के माध्यम से – lic धन वृद्धि प्लान को आप किसी भी बीमा एजेंट के द्वारा आप खरीद सकते है।
  • ऑनलाइन – lic धन वृद्धि प्लान को आप lic की ऑफिसियल वेबसाइट पर जा कर खरीद सकते है।

और भी पढ़े।

निष्कर्ष

हमारे इस लेखे में हमने आपको lic धन वृद्धि प्लान 869 बारे में बताया है। इस प्लान से जुडी सभी जानकारी आसान भाषा में देने की कोशिश की है। यदि आपको LIC से जुड़े किसी प्लान या किसी समस्या के बारे में पूछना हो तो हमे जरूर कांटेक्ट करने की कोशिश करे। हमारा आर्टिकल आपको अच्छा लगा तो हमे कमेंट करके जरूर बताये।

LIC धन वृद्धि प्लान- 869 FAQ

Q.1 LIC धन वृद्धि प्लान- 869 में कोनसे राइडर उपलब्ध है

A. 1. दुर्घटना मृत्यु और विकलांगता लाभ राइडर
2. टर्म एश्योरेंस राइडर

Q. 2 LIC धन वृद्धि प्लान- 869 के लिए आवेदन कैसे करें ?

A. यह प्लान ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों जगह उपलब्ध है।

Q. 3 LIC धन वृद्धि प्लान- 869 लोन कब मिल सकता है

A. इस योजना के अंतर्गत बीमा धारक पॉलिसी के 3 महीने पुरे होने के बाद लोन की सुविधा भी प्राप्त कर सकते हैं।


Share this Article