Post Office Kisan Vikas Patra Scheme in Hindi

Post Office Kisan Vikas Patra Scheme in Hindi : नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज के इस आर्टिकल में हम पोस्ट ऑफिस की एक बहुत ही पॉपुलर स्कीम के बारे में बात करेंगे जिसमें हमारा पैसा हमे दुगुना होके मिलता है इस स्कीम का नाम है किसान विकास पत्र योजना तो इस स्कीम को जानेंगे पूरे डिटेल से और कितने समय में आपका पैसा इसमें डबल हो जायेगा तो सबसे पहले जानते है की किसान विकास पत्र योजना क्या है ?

Post Office Kisan Vikas Patra Scheme क्या है?

हमारी सरकार बचत की आदत को बढ़ावा देने के लिए अलग अलग योजनाएं समय समय पर निकलती रहती है और इसी में से एक है किशन पत्र योजना ये स्कीम पोस्ट ऑफिस की कुछ पॉपुलर स्कीम में से एक है इसमें निवेश करने के बाद उसका किस्त पूरा होने पर उसका पैसा दोगुना हो के मिलता है । इस स्कीम को सरकार ने मुख्यत : वित्तीय रूप से पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए सेविंग के आदत को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया था इसमें हमारा पैसा लॉन्ग टर्म के लिए निवेश होता है और उस पर हमे वार्षिक ब्याज मिलता है इस स्कीम को पहले सिर्फ किसानों के लिए जारी किया गया था लेकिन अब इसे सभी के लिए ओपन कर दिया गया है ।

Kisan Vikas Patra Scheme हेतु योग्यता :-

  1. कोई भी भारतीय जिसकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है इसके लिए आवेदन कर सकता है ।
  2. इसके अलावा कोई भी माइनर जिसकी उम्र 10 वर्ष से अधिक है वो भी इसमें अकाउंट ओपन करवा सकता है लेकिन माइनर अकाउंट को कोई पैरेंट ही ऑपरेट करेंगे।
  3. इसमें हमे ज्वाइंट अकाउंट की भी फेसलोटील्टी मिलती है जिसमे की अधिकतम 3 वयस्क को सम्मिलित किया जा सकता है ।

कोई भी व्यक्ति जो HUF यानि Hindu Undivided Family ki Category में आता है या फिर एनआरआई है इसमें अकाउंट ओपन नहीं करवा सकता ।

Kisan Vikas Patra Scheme में नॉमिनेशन फैसिलिटी :-

इसमें आपको अकाउंट ओपन करवाने के दौरान मोमिन नॉमिनेशन की फैसिलिटी दी जाती है । अगर हम उस समय उसे ऐड नही कर पाते है तो आवेदन के बाद अपडेट कर हम नॉमिनी ऐड कर सकते हैं ।

Post Office Kisan Vikas Patra Scheme अकाउंट ओपन कहा से करें :-

इस योजना में अकाउंट किसी भी पोस्ट ऑफिस या राष्ट्रिय बैंक से ओपन करवाया जा सकता है इसमें हमे ट्रांसफर फेसिलिटी भी दी जाती है । इसमें अकाउंट ओपन करवाने में शुरू में हमे एक प्रमाण पत्र मिलता है लेकिन 2016 के बाद से ये पासबुक फार्म में इश्यू किया जाता है ।

Kisan Vikas Patra Scheme में इंट्रेस्ट रेट :-

वर्तमान में इसमें इंट्रेस्ट रेट है 6.9% जो की क्वीसरकार हर 6 महीने में डिसाइड करते है और इस बात काद्यान रखे KVP खरीदते समय जो इंट्रेस्ट चल रहा है वो पूरे टेन्योर के लिए फिक्स कर दिया जाता है ।

Post Office Kisan Vikas Patra Scheme में निवेश के तरीके :-

इसमें आप न्यूनतम 1000 रूपये से निवेश कर सकते है और अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है। अब इसी के साथ हम इसमें 1000, 5000, 10,000 और 50,000 के डिनोवेशन में ही खरीद सकते हैं । अगर आप 50,000 से ज्यादा का निवेश करते है तो पैन कार्ड आपको दिखाना पड़ेगा साथ ही 10 लाख का निवेश करते हैं तो ITR प्रूफ दिखाना जरूरी है ।

KVP Certificate के प्रकार :- 

  1. Single Holder Type Certificate – इसमें हम अपने नाम का सर्टिफिकेट ले सकतें हैं अगर आपके फैमिली में कोई माइनर है तो उसके बिहाफ पर भी ये सर्टिफिकेट ले सकते हैं और जैसे ही वह वयस्क हो जायेगा ये सर्टिफिकेट इसके नाम पर हो जाएगा ।
  1. Joint A Type Certificate – इसमें कोई भी तीन लोग मिल कर इस सर्टिफिकेट को ले सकते हैं और जब भी इसकी मैच्योरिटी होगी ज्वाइंटली पे भी हो जायेगा ।
  1. Joint B Type Certificate – इसमें बस इतना उत्तर है की जो तीन लोग ।इलकार ये सर्टिफिकेट लेंगे वो आपस में डिसाइड कर सकते हैं की मैच्योरिटी की समय राशि किसकी मिलेगा ।

KVP में टैक्स कैलकुलेशन :- 

इसमें जो राशि हम निवेश करते हैं वो भी और मैच्योरिटी के समय पर जो इंट्रेस्ट अर्न करते है वो भी टैक्सेबल होते हैं और इसमें किसी प्रकार का TDS काटा जाता है बस जो हम इंटरेस्ट अर्न करते है उसी पर टैक्स देना होता है । इसमें आप कोई भी टैक्स सेव नही कर पाएंगे जैसे अन्य स्कीम में सेक्शन 80c से मिलता है ।

KVY Pre-Mature Withdrawal :-

इस स्कीम में हमे 2.5 साल तक निवेश करना होता है यह लॉकिंग पीरियड होता है और इसके बाद आसानी से हम इसे विड्रॉल कर सकते हैं तो उस समय तक जितना भी इंट्रेस्ट बनेगा वो हमें मिल जाएगा ।

KVY ट्रांसफर करने हेतु कंडीशन :- 

  1. अगर सर्टफिकेट होल्डर की समय से पहले मृत्यु हो जाती है तो सर्टिफिकेट उनके नॉमिनी को ट्रांसफर कर दिया जाता है ।
  2. अगर किसी ने सिंगल होल्डर सर्टिफिकेट लिया है वो उसको ज्वाइंट में ट्रांसफर करवाना चाहता है तो यह भी संभव है ।
  3. अगर कोई ज्वाइंट होल्डर अकाउंट ओपन करवाया है और उसमे किसी का नाम ऐड और हटा भी सकता है ।
  4. किसी ने ज्वाइंट अकाउंट ओपन करवाया है और सिंगल होल्डर में कन्वर्ट करवाना चाहता है तो वह भी संभव है ।

KVP के महत्त्वपूर्ण फिचर्स :- 

  1. आप अपना किसान विकास पत्र सर्टिफिकेट गिरवी रख कर लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
  2. लोन की ड्यूरेशन सर्टिफिकेट के ड्यूरेशन से हमेशा कम ही होगी ।
  3. लोन राशि आपके सर्टिफिकेट पर निर्भर करेगा ।

KVP मैच्योरिटी पीरियड :-

इसकी मैच्योरिटी पीरियड होती है 10 साल और 4 महीने की इसका मतलब हैं इस समय अवधि के बाद हमारा पैसे हमें डबल होके मिलेगा । हमारा पैसे कितने समय में डबल होगा ये इंट्रेस्ट रेट पर निर्भर करता है । अगर इंट्रेस्ट रेट हाई होगा तो हमारा पैसा कम समय में डबल हो जायेगा और इंट्रेस्ट रेट कम होगा तो पैसा डबल होने में थोड़ा और समय लगेगा ।

KVP हेतु जरुरी दस्तावेज :-

  1. ID Proof 
  2. Address Proof 
  3. 2 Passport Size Photos

अगर ज्वाइंट ओपन करवाने की स्थिति में सभी अकाउंट होल्डर की 2 रीसेंट की पासपोर्ट साइज फोटो । इसके अलावा आप जो भी दस्तावेज सबमिट करेंगे वो सेल्फ अटेस्ट करने होंगे ।

KVP अकाउंट ओपन कैसे करें :-

आप किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर ये डॉक्यूमेंट के साथ अपना KVP अकाउंट ओपन करवा सकते हैं और ओपन करवाने के लिए या तो आप पोस्ट ऑफिस में जाकर KVP फॉर्म लेकर भरे जरूरी दस्तावेज के साथ सबमिट कर सकते हैं या फिर आप ऑनलाइन पोस्ट की ऑफिसियल वेबसाइट से फॉर्म को डाउनलोड करके उसको फिल करके पोस्ट ऑफिस में जमा कर सकते हैं ।

निष्कर्ष :- 

तो आज के इस आर्टिकल में हमने जाना है किसान विकास पत्र योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी मुझे आशा है आपके लिए यह आर्टिकल उपयोगी होगी और आपको इसके माध्यम से इस स्कीम से जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी आप इस स्कीम में सुरक्षित अपने पैसे निवेश कर सकते हैं यहां आपको एफडी से ज्यादा इंट्रेस्ट भी मिलेगा और आपके पैसे डबल होके आपको वापस मिलेंगे तो आज के लिए बस इतना ही मिलते है अगले आर्टिकल में अपना सुझाव हमें कॉमेंट बॉक्स में दे साथ ही कोई प्रश्न है तो भी कॉमेंट के माध्यम से पूछ सकते है और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर भी जरूर करें।

Read Also : RBI Best Saving Scheme in Hindi