भारत की केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा चलाई गई है।

नाम बदलकर "पीएम पोषण शक्ति" कर दिया गया है

1925 में मद्रास नगर निगम के द्वारा शुरू की

भारत सरकार के द्वारा 15 अगस्त 1995 में शुरू की गयी थी।

बच्चों को सप्ताह में 3 दिन अंडा दिया जाता है।

6 वर्ष से लेकर 14 वर्ष के आयु के बच्चों को पोषण दिया जाता है।

इस योजना के माध्यम से बच्चों को निशुल्क भोजन मिलता है।

स्कीम का संचालन केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा किया जाता है।

इस योजना में अलग-अलग राज्यों द्वारा भी योगदान दिया जाता है